Sunday, February 10, 2013

प्रपोज वाला इजहार


हो गया है हमको तुमसे इश्क वाला लव
जी करता लिखूं तुमको इक लेटर वाला खत
लेकिन खत लिखने में लगता है
हमको बहुत टाइम वाला वक्त
क्योंकि अंग्रेजी में है हमारा हाथ
बहुत टाइट वाला सख्त
कोई ऐसा तरीका बताओ जिससे
हम तुमको कर सकें प्रपोज वाला इजहार
आजकल मेरा दिल रहने लगा है बहुत बेकरार
इंस्टेंट प्रक्रिया का कोई तो तरीका बताओ
अब डिले करके इतना हमको न सताओ
कहीं ऐसा न हो कि प्रपोज डे के बाद
निकल जाए वैलेनटाइन डे भी
फिर बीत जाए बसंत का सीजन भी खुशगवार
और हमें करना पड़े एक साल फिर
वेट वाला इंतजार....
.....अुनषा मिश्रा